Blogging के फायदे | हिंदी Blogging के 20 फायदे

Blogging ke kya fayde hain , Blog ke Fayde , Benefits of Blogging in Hindi , ब्लॉग क्यों स्टार्ट करें , ब्लॉगिंग के फायदे क्या है , ब्लॉगिंग से मिलने वाले फायदे , हिंदी Blogging के फायदे – घर बैठे आसानी से पैसे कमाने के लिए ब्लॉगिंग एक बहुत ही अच्छा माध्यम है। ब्लॉगिंग की इंडस्ट्री बढ़ती जा रही है। हर रोज नए नए ब्लॉगर आ रहे हैं जो अपना ब्लॉग बना रहे हैं।

अगर आप भी Blogging करना चाहते हैं और ब्लॉगिंग करने के बारे में सोच रहे हैं तो ज्यादा मत सोचिए आज ही ब्लॉगिंग स्टार्ट कर ले । हिंदी Blogging अगर आप करना चाहते हैं तो यह भी बेस्ट ऑप्शन है क्योंकि आने वाले समय में हिंदी ब्लॉगिंग बहुत बढ़ जाएगा। हिंदी के अलावा आप जिस भी भाषा में चाहते हैं उस भाषा में ब्लॉगिंग कर सकते हैं ।

YouTube Channel download
Telegram Group images

बहुत सारे लोगों को अभी ब्लॉगिंग के फायदे नहीं पता है इसलिए उनको लगता है कि ब्लॉगिंग करके कोई फायदा नहीं मिलता। इस आर्टिकल में हमने ब्लॉगिंग के 30 फायदे बताए हैं जिनको पढ़कर आप भी समझ जाएंगे कि ब्लॉगिंग कितनी फायदेमंद है।

Watch Video For More Details

Table of Contents

Blogging के फायदे ( Benefits of Blogging in Hindi )

Blogging एक ऐसा तरीका है जिसके माध्यम से आप अपने विचार ज्ञान और कौशल को शेयर करते हैं। ब्लॉगिंग स्टार्ट करने से पहले आपको यह समझना होगा कि आपको किस टॉपिक पर ब्लॉगिंग करना है और आपको उस पर निरंतर काम करते रहना है। ब्लॉग में आपको कोई भी विषय चुन सकते हैं जिसमें आपका ज्यादा इंटरेस्ट है उस पर आप अपने ब्लॉग पर आर्टिकल पब्लिश कर सकते हैं।

कई बार ऐसा होता है कि लोग ब्लॉगिंग करना स्टार्ट तो कर देते हैं लेकिन उसमें फोकस नहीं कर पाते और डिमोटिवेट होकर Blogging को छोड़ देते हैं। लेकिन आपको ऐसा नहीं करना है। जब भी हम कोई काम स्टार्ट करते हैं तो उसमें कोई ना कोई प्रॉब्लम आती है जिसको हम सॉल्व करके आगे बढ़ सकते हैं।

Blogging करने के लिए कुछ जानकारियों को समझना और सीखना पड़ता है जैसे कि Blog का टॉपिक कैसे चुने ,Blog कैसे बनाएं ,ब्लॉग का उपयोग कैसे करें , SEO कैसे करें , Blog को प्रोमोट कैसे करें आदि ।

Blogging के फायदे Blogging ke kya fayde hain Blog ke Fayde Benefits of Blogging in Hindi ब्लॉग क्यों स्टार्ट करें ब्लॉगिंग के फायदे क्या है 1
Benefits of Blogging in Hindi , ब्लॉग क्यों स्टार्ट करें , ब्लॉगिंग के फायदे क्या है

इस आर्टिकल को पढ़कर आप पूरी तरह समझ जाएंगे कि Blogging कितनी फायदेमंद है जिससे कि आप Blogging में मेहनत करेंगे और आप सफल भी होंगे। तो चलिए जानते हैं Blogging कितनी फायदेमंद है –

व्यकिगत विकास ( Personal Development )

Blogging करके आप व्यक्तिगत विकास को बढ़ावा देते हैं। यह आपको लिखने, संगठन करने ,विचारों को स्पष्ट करने और उन्हें दूसरों के साथ सांझा करने के लिए सक्षम बनाती है। ब्लॉगिंग व्यक्तिगत विकास में बहुत सहायक है।

यह भी पढ़े Blogging क्या है | ब्लॉग और वेबसाइट में क्या अंतर हैं

लाइफ में अनुसाशन ( Discipline in Life )

Blogging से लाइफ में अनुशासन आता है क्योंकि जब आप ब्लॉगिंग करना स्टार्ट करते हैं तो आपको ब्लॉग में नियमित रूप से आर्टिकल पब्लिश करने पड़ते हैं, ब्लॉग के लिए रिसर्च करनी पड़ती है और ब्लॉग का S CO करना के साथ साथ और भी कई काम करने होते हैं ।

Blogging करते समय आलसी इंसान भी अनुशासन में काम करने लगता है। क्योंकि Blogging है ही ऐसी जितना आप ब्लॉगिंग करोगे उतना आपको इसमें इंटरेस्ट आएगा और आप और ज्यादा मेहनत करना स्टार्ट कर दोगे।

लेखन कला में सुधार ( Improve writing skills )

जब आप Blogging करना शुरू करते हैं तो अपने ब्लॉग पर आप को नियमित रूप से आर्टिकल पब्लिश करने होते हैं। जिसके लिए आपको एक बहुत अच्छा आर्टिकल लिखकर तैयार करना होता है और ब्लॉग पर लगातार लिखने से आपकी लेखन कला में सुधार होता है। कुछ समय के बाद आप लेखन कला में एक्सपर्ट बन जाते हैं। Blogging का बहुत बड़ा फायदा यही है कि आपके अंदर लेखन कला का विकास होता है।

यह भी पढ़े Affiliate Marketing क्या है | एफिलिएट मार्केटिंग से ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए

सीखने का अवसर ( learning opportunity)

Blogging के माध्यम से आप टॉपिक ,विचारों और कौशलों के बारे में सीखना स्टार्ट करते हैं। जब आप अपनी जानकारी को दूसरों के साथ शेयर करते हैं तो आपको नए पहलुओं और दृष्टिकोण को ढूंढने का मौका मिलता है। आप जितनी ब्लॉगिंग करते चले जाते हैं उतना ही आप सीखते हैं। क्योंकि हर रोज एक नई आर्टिकल पब्लिश करने के लिए आपको नई नई रिसर्च करनी पड़ती है जिससे आपके ज्ञान में बढ़ोतरी होती है।

स्थिर आय ( Stable income )

Blogging एक ऐसा माध्यम है जिसमें आपको पैसों की कभी कमी नहीं होने वाली। इसके लिए आपको बस मेहनत करनी है और अपने ब्लॉग को सफल बनाना है। जैसे ही आपकी ब्लॉगिंग में सक्सेस मिलती है आपको स्टेबल इनकम आने स्टार्ट होती है। जब आप अपने ऑडियंस को अच्छी इंफॉर्मेशन प्रोवाइड करते हैं और आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक बढ़ने लगता है तब आपकी आय स्थिर हो जाती हैं ।

खुद का ब्रांड बनता हैं ( Make yourself a brand )

Blogging के माध्यम से आप खुद का ब्रांड भी बना सकते हैं। क्योंकि जब आप Blog बनाते हैं तो लोग आपके ब्लॉग पर विजिट करते हैं और आपके द्वारा दी गई इंफॉर्मेशन को पढ़ते हैं जिससे कि उनको नॉलेज मिलती है। अगर आप Blogging में अच्छा काम करते हैं तो आपका ब्लॉग एक ब्रांड भी बन सकता है।

जिस भी नाम से आपने Blog स्टार्ट किया है उस नाम को आप सोशल मीडिया पर भी अकाउंट बनाकर उसमें भी आप लोगों के साथ जुड़ सकते हैं और उनको इंफॉर्मेशन दे सकते हैं। इसके अलावा आप जिस भी टॉपिक पर Blogging कर रहे हैं उसी टॉपिक पर आप यूट्यूब में वीडियो बनाकर लोगों को बताना भी स्टार्ट करें । इससे आपकी खुद की ऑनलाइन पहचान के साथ आपकी ब्रांडिंग भी हो जाती है।

यह भी पढ़े Blog Niche क्या है? Blog के लिए Niche कैसे सेलेक्ट करें

अपने काम मे विशेषयज्ञ बनना ( Become an expert in your work )

जैसे ही आप Blogging स्टार्ट करते हैं आपको बहुत सारे रिसर्च करने पड़ते हैं। Blogging करते हुए आप अपने टॉपिक पर एक्सपर्ट बन जाते हैं। जिस भी टॉपिक में आप अपने ब्लॉग में आर्टिकल लिखते हैं उस टॉपिक से रिलेटेड आपको सारी जानकारियां मिल जाती है जिसके कारण आप उस में एक्सपर्ट हो जाते हैं।

Blogging एक ऐसा माध्यम है जिसमें आप सीखते ही रहते हैं। जितना आप ब्लॉगिंग करेंगे उतना आपको नई नई चीजें सीखने के लिए मिलती है। जब भी आप अपने ब्लॉग के लिए कुछ आर्टिकल लिखते हैं तब आपको रिसर्च के साथ नई चीजों का पता लगता है जिससे कि आप अपने काम में विशेषज्ञ बन सकते हैं।

ऑनलाइन प्रतिष्ठा और पहचान ( Online reputation and identity )

Blogging के माध्यम से एक ब्लॉगर के रूप में आपकी ऑनलाइन प्रतिष्ठा और पहचान बनती है। जैसे जैसे आप अपने काम में एक्सपर्ट होते जाते हैं लोग आपको फॉलो करना स्टार्ट करते हैं और आपसे सीखना चाहते हैं जिससे कि आप दूसरों की हेल्प करके भी कमाई कर सकते हैं।

जब आप अपने ब्लॉग में सटीक जानकारी देते हैं और लोगों को वह जानकारी पसंद आती है तो लोग आपके बारे में जानना चाहते हैं और आपके बारे में रिसर्च करते हैं कि आप क्या करते हैं ,आपने यह ब्लॉग कैसे बनाया। आपकी ऑनलाइन पहचान बनती है। सटीक जानकारी देने के कारण आप अपने काम में एक्सपर्ट बन जाते हैं और साथ ही कुछ नया भी सीखते हैं।

यह भी पढ़े Blog के लिए आर्टिकल कैसे लिखें | पहली बार Blog Post कैसे लिखें 

बॉस फ्री वर्क लाइफ ( Boss free work life )

Blogging करने के लिए आपको किसी भी बॉस के Under काम करने की जरूरत नहीं पड़ती क्योंकि इसमें आप अपने बॉस खुद होते हैं। ब्लॉगिंग में सफलता मिलने के बाद आपको कहीं भी जॉब करने की आवश्यकता नहीं होती है आप खुद के बॉस स्वयं होते हैं। इसमें आप बहुत फ्री वर्क लाइफ इंजॉय करते हैं। आपको किसी भी बॉस क टेंशन नहीं रहती इसमें आप खुद ही अपने ब्लॉग के मालिक हैं और खुद ही इस में आप काम करते हैं।

अच्छी जॉब्स पा सकते हैं ( can get good jobs )

जब आप Blogging स्टार्ट करते हैं तो आपको बहुत कुछ सीखने को मिलता है जिससे कि आपके अंदर नॉलेज बढ़ जाती है। इसलिए आपको ब्लॉगिंग के साथ साथ कहीं अच्छी जॉब भी मिल सकती है। क्योंकि ब्लॉगिंग करती हुए आपकी Blogging स्किल्स बहुत अच्छी हो जाती है और आप अपने ब्लॉग में काम करने के अलावा दूसरों के Blog के लिए भी काम कर सकते हैं जैसे कि उनके लिए कंटेंट राइटिंग का काम कर सकते हैं उनके ब्लॉक के लिए SCO भी कर सकते हैं और भी बहुत सारे काम होते हैं जिनको आप कर सकते हैं।

अपना बिजनेस बना सकते हैं ( can build your business )

Blogging के माध्यम से आप अपना बिजनेस भी स्टार्ट कर सकते हैं। जिस भी टॉपिक में आप काम कर रहे हैं उससे संबंधित प्रोडक्ट्स बना सकते हैं और अपने ब्लॉग में आने वाले यूजर्स को कस्टमर में बदल कर उनको अपने प्रोडक्ट सेल कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपने ऑडियंस का भरोसा जीतना होता है।

अगर आप अपने ब्लॉग में सटीक जानकारी देते हैं तो आपके ऑडियंस को आपका प्रोडक्ट खरीदने में भी इंटरेस्ट होगा। प्रोडक्ट के अलावा आप अपने ब्लॉग पर ऑनलाइन कोर्स ,Ebook या कोई अन्य प्रोडक्ट्स भी बेच कर कमाई कर सकते हैं ।

यह भी पढ़े Blog किस टॉपिक पर बनाये | हिंदी ब्लॉग Niche आईडिया 2023

लोगों के साथ संपर्क ( contact with people )

Blogging के माध्यम से आपकी ऑनलाइन पहचान बनती है और आप अपने ऑडियंस के साथ संपर्क स्थापित करते हैं। आपके ब्लॉग पर आने वाले कमेंट प्रतिक्रियाओं और शेयरिंग के माध्यम से आप एक सक्रिय समुदाय का निर्माण करते हैं और अपने प्रोडक्ट को और बेहतर बनाने के लिए अपनी ऑडियंस के साथ संवाद कर सकते हैं। अपने ऑडियंस को कोई भी प्रॉब्लम है तो उनके समाधान आप संवाद के द्वारा कर सकते हैं जिससे कि यूज़र और आपके बीच में संपर्क बना रहेगा।

दूसरों की हेल्प कर सकते हैं ( Can help others )

Blogging एक ऐसा माध्यम है जिससे कि आप खुद के साथ दूसरों के भी हेल्प कर सकते हैं। जब आप ब्लॉगिंग में एक्सपर्ट हो जाती है और ब्लॉगिंग में आप सक्सेस होते हैं तो आप दूसरों की हेल्प भी कर सकते हैं। आप जिस भी टॉपिक में काम कर रहे हैं उस टॉपिक के बारे में आपको पूरी इंफॉर्मेशन होती है जो कि आप लोगों के साथ शेयर कर सकते हैं।

जिस भी टॉपिक में आप काम कर रहे हैं उस टॉपिक में अगर कोई और भी काम कर रहा है तो आप उन लोगों को उनकी प्रॉब्लम सॉल्व करने में हेल्प कर सकते हैं। बहुत सारे ऐसे ब्लागर हैं जो कमाई से ज्यादा लोगों की मदद करने पर ध्यान देते हैं तो आप भी अपनी इनकम के साथ दूसरों की हेल्प भी कर सकते हैं।

बाज़ार में मौजूदगी (Available in the market )

अपने विचारों ,ज्ञान और टैलेंट को ब्लॉग के माध्यम से सांझा करके आप खुद को अपने क्षेत्र में एक शक्तिशाली और प्रभावशाली खिलाड़ी के रूप में स्थापित कर सकते हैं। इससे आपके बिजनेस ,नौकरी के मौके और साझेदारी की तलाश में आपको फायदा होगा। जैसे ही आप अपने काम में एक्सपर्ट होते हैं और आपको Blogging में सक्सेस मिलती है बाजार में आपकी मौजूदगी का लोगों को पता लगता है और लोग आपको फॉलो भी करते हैं।

यह भी पढ़े Chat GPT क्या है और यूज कैसे करें | Chat GPT से पैसे कैसे कमाए

वाणिज्यिक मूल्य ( commercial value )

Blogging के माध्यम से आप बिजनेस, स्वतंत्र कारोबार या विकसित कैरियर के लिए महत्वपूर्ण वाणिज्यिक मूल्य बना सकते हैं। जब आपके ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक आने लगता है तो आप स्पॉन्सरशिप, एडवर्टाइजमेंट ,कोर्स वेबीनार आदि के माध्यम से पैसे कमा सकते हैं।

सामाजिक संदेश पहुंचाना ( social messaging )

Blogging के माध्यम से आप अपने मन की बात लोगों तक रख सकते हैं। ब्लॉगिंग के माध्यम से आप सामाजिक संदेश भी पहुंचा सकते हैं। जो भी आप समाज को संदेश देना चाहते हैं उस पर आप एक आर्टिकल लिखें और उस आर्टिकल को पब्लिश करें जिससे कि ऑडियंस को उस आर्टिकल को पढ़ने से इंफॉर्मेशन मिलेगी। आप अपनी सोच विचार और मान्यताओं के साथ समाज में सकारात्मक परिवर्तन ला सकते हैं जिसके लिए ब्लॉगिंग एक बहुत अच्छा माध्यम है।

नेटवर्किंग का माध्यम ( networking medium )

Blogging के माध्यम से आप लोगों से मिलते हैं जिससे कि आप की ऑनलाइन पहचान बनती है और इसी से आप अपना नेटवर्क बिल्ड कर सकते हैं। ब्लॉगिंग से अपने समर्थक लोगों से मिल सकते हैं और एक सकारात्मक समुदाय का हिस्सा बन सकते हैं। आपके ब्लॉगिंग के माध्यम से आप अन्य लोगों को प्रेरित कर सकते हैं और अनुभव का संग्रह कर सकते हैं साथ ही दूसरों से मिलकर आप उनसे भी कुछ सीख सकते हैं।

नए अवसरों की पहचान ( Identification of new opportunities )

Blogging आपको नए अवसरों की पहचान करने में हेल्प करती है। जब आप अपनी जानकारी ,कौशल और विचारों को साझा करते हैं तो आपको अन्य लोगों के द्वारा संपर्क किया जाता है और आपके ब्लॉग से प्रभावित होते हैं। और इससे आपको सहयोग ,नौकरी के अवसर और नए प्रोजेक्ट मिलते हैं।

यह भी पढ़े Share Market क्या है | स्टॉक मार्केट से पैसा कैसे कमाए

स्वाधीनता और नियोजन ( Independence and Planning )

Blogging से आपको स्वाधीनता और नियोजन करने की सुविधा मिलती है। आप अपने ब्लॉग के कंटेंट खुद सिलेक्ट कर सकते हैं और अपने काम की लिस्ट खुद बना सकते हैं और स्वयं एक स्वतंत्र Entrepreneur बन सकते हैं। ब्लॉगिंग के माध्यम से आपकी वर्क लाइफ और पर्सनल लाइफ में बैलेंस बना रहता है। इसमें आप खुद के बॉस होते हैं और आपको इसमें स्वतंत्रता मिलती है और जब आप चाहे काम कर सकते हैं।

आपका रचनात्मक आवास ( your creative habitat )

अंत में हम यह कह सकते हैं कि ब्लॉगिंग आपको एक रचनात्मक आवास प्रदान करती है जहां पर आप अपने मन की बात को आसानी से कह सकते हैं। हो इसमें स्वतंत्रता के साथ आप सोच विचार सकते हैं और अपनी बात ऑडियंस तक रख सकते हैं। यह आपके लिए एक स्वतंत्र और स्वभाव स्वाधीनता भरे माध्यमों का प्रतीक है और आपकी खुद की कंटेंट क्रिएशन और सफलता की रणनीतियों को विकसित करने का एक माध्यम है।

यह भी पढ़े Youtube क्या है | Youtube से पैसा कमाने के 18 बेस्ट तरीके

FAQ Checklist

ब्लॉगिंग की विशेषताएं बताएं।

ब्लॉगिंग आपको एक रचनात्मक आवास प्रदान करती है जहां पर आप अपने मन की बात को आसानी से कह सकते हैं। हो इसमें स्वतंत्रता के साथ आप सोच विचार सकते हैं और अपनी बात ऑडियंस तक रख सकते हैं। यह आपके लिए एक स्वतंत्र और स्वभाव स्वाधीनता भरे माध्यमों का प्रतीक है 

ब्लॉगिंग क्यों करनी चाहिए ?

ब्लॉगिंग से आपको स्वाधीनता और नियोजन करने की सुविधा मिलती है। आप अपने ब्लॉग के कंटेंट खुद सिलेक्ट कर सकते हैं और अपने काम की लिस्ट खुद बना सकते हैं और स्वयं एक स्वतंत्र Entrepreneur बन सकते हैं। ब्लॉगिंग के माध्यम से आपकी वर्क लाइफ और पर्सनल लाइफ में बैलेंस बना रहता है। 

ब्लॉगिंग,नेटवर्किंग का माध्यम कैसे है ?

ब्लॉगिंग के माध्यम से आप लोगों से मिलते हैं जिससे कि आप की ऑनलाइन पहचान बनती है और इसी से आप अपना नेटवर्क बिल्ड कर सकते हैं। ब्लॉगिंग से अपने समर्थक लोगों से मिल सकते हैं और एक सकारात्मक समुदाय का हिस्सा बन सकते हैं।

ब्लॉगिंग के क्या फायदे है ?

ब्लॉगिंग करने के लिए आपको किसी भी बॉस के Under काम करने की जरूरत नहीं पड़ती क्योंकि इसमें आप अपने बॉस खुद होते हैं। ब्लॉगिंग में सफलता मिलने के बाद आपको कहीं भी जॉब करने की आवश्यकता नहीं होती है आप खुद के बॉस स्वयं होते हैं। ब्लॉगिंग एक ऐसा माध्यम है जिसमें आपको पैसों की कभी कमी नहीं होने वाली।

ब्लॉगिंग से आप क्या सीखते है ?

ब्लॉगिंग करने से आप बहुत सारी नयी स्किल सीख सकते हैं. जैसे वेब डिजाइनिंग, कंटेंट राइटिंग, SEO, डिजिटल मार्केटिंग, आदि. ऐसी ही अनेक प्रकार की नयी स्किल सीख सकते हो, इस सभी स्किल की डिमांड आज के समय पर बहुत अधिक है और भविष्य में भी रहेगी।

ब्लॉगर बनने के लिए कौन सी Skills होनी चाहिए?

ब्लॉगर के पास मजबूत राय होनी चाहिए और इन विचारों को लिखित रूप में व्यक्त करने में सक्षम होना चाहिए। उनके पास व्यापक सामान्य ज्ञान होना चाहिए, अनुसंधान तकनीकों में कुशल होना चाहिए और कंप्यूटर साक्षर होना चाहिए।

क्या ब्लॉगिंग एक अच्छा करियर है?

ब्लॉगिंग में करियर एक शानदार संभावना है । हालाँकि, यह इतना आसान नहीं है, और सफलता की दर सिर्फ 2% – 3% है। भारत में अधिकांश ब्लॉगर विफल हो जाते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि ब्लॉगिंग कुछ जल्दी-अमीर-बनने की योजना है।

ब्लॉग राइटर कौन है?

ब्लॉग लेखक एक लेखक होता है जो अपनी निजी वेबसाइट के लिए ऑनलाइन सामग्री बनाता है या एक ऑनलाइन समाचार पत्र या मौजूदा ब्लॉग के लिए सामग्री का योगदान देता है।

ब्लॉगिंग का भविष्य क्या है?

वीडियो सामग्री की बढ़ती लोकप्रियता के साथ सामग्री रूपों में विविधता बढ़ेगी। लोगों की संभवतः ऐसी सामग्री रूपों में रुचि होगी जिनका आसानी से उपभोग किया जा सकता है। भविष्य के ब्लॉग में वीडियो, व्लॉग और दृश्य सामग्री के अन्य रूपों को शामिल करने की उम्मीद है।

क्या मैं अपने स्मार्टफोन से ब्लॉग कर सकता हूं?

हा ,यदि आप केवल अपने फ़ोन या किसी अन्य हैंडहेल्ड डिवाइस से ब्लॉग करते हैं, तो आपको मोबाइल ब्लॉगर के रूप में वर्गीकृत किया जाएगा। मोबाइल ब्लॉगिंग इच्छुक ब्लॉगर्स के लिए एक आकर्षक विकल्प है, जिनके पास एक अच्छा पर्सनल कंप्यूटर नहीं है। 

और पढ़े –

%d bloggers like this: